Category

INSPIRATION

INSPIRATION

वो चैन से बैठकर……….

वो चैन से बैठकर बात करना अब कहा नसीब होता है…

फुर्सत के कुछ पल मिलना जैसे मुश्किल सा हो गया है…

अब तो बस भागदौड़ है ज़िन्दगी में…

इंसान के पास खुद के लिए अब समय ही कहा होता है…

Deepali Jain

 

INSPIRATION

हुई ज़िन्दगी में कई गुस्ताखिया……….

हुई ज़िन्दगी में कई गुस्ताखिया…
करी ज़िन्दगी में अपनी मन्मर्ज़िया…
कुछ गलत फैसलों से सीख मिल गई…
कुछ सही फैसलों से ज़िन्दगी संवर गई…

Deepali Jain

INSPIRATION

हार-जीत……….

हार-जीत सब किस्मत का खेल…
इंसान की सोच और तकदीर का ना कोई मेल…
जीत जाओ तो सारे जहान की खुशिया भी कम है…
हार जाओ तो हर छोटी बात में भी गम है…

Deepali Jain

INSPIRATION

आज मौसम कुछ बदला – बदला सा लगा……….

आज मौसम कुछ बदला – बदला सा लगा…
हवाये कुछ सर्द सी लगी…
फिज़ाओ में कुछ तो नया रंग था…
आज मौसम में कुछ तो नया ढंग था…
सोचा उड़ चलू इन हवाओ के संग…
गाती चलू इन फिज़ाओ के संग…
ऐसा लगा ज़िन्दगी को नया नजरिया मिल गया…
जो चाहा था वो पाके दिल खुशहाल हो गया…

Deepali Jain

INSPIRATION

लिखने चली कागज़ पर……….

लिखने चली कागज़ पर तो समझ ना आया क्या लिखू…
ज़िन्दगी समझने चली तो नासमझ बन गई…
सोचा ज़िन्दगी को उतार दु कागज़ पर…
शब्द तो बहुत थे मगर शाई कम पड़ गई…

Deepali Jain

INSPIRATION

हमसफर……….

मिलते है बहुत लोग इस जिंदगी में…
कुछ लोग चंद लम्हों का साथ देकर चले जाते है…
तो कुछ ज़िन्दगी भर साथ निभाते है…
उन्ही मे से एक ज़िन्दगी जीने की वजह बन जाता है…
उसी को हमसफर कहा जाता है…

Deepali Jain

INSPIRATION

पहली झलक……….

पहली झलक में ही उनसे मोहब्बत कर बेठे…
बात की तो पता चला की वो किसी और की अमानत है…
हम तो उनसे मोहब्बत करने की हिमाकत कर बेठे…

Deepali Jain

INSPIRATION

हमारा भ्रम……….

रास्ते में तन्हा चल रहे थे…

सोचा किसीका साथ मिले तो बात बने…

तभी दूर एक परछाई नज़र आई…

लगा खुदा ने दुआ क़ुबूल करी…

थोडा पास जाकर देखा तो पता चला की खुदा ने भी क्या हसीन मजाक किया है…

जिसे हमसफ़र समझा , वो तो हकीकत में ना निकला…

जिसे हम हमारी तकदीर समझ रहे थे , वो हमारा भ्रम निकला…

Deepali Jain

INSPIRATION

खुद को ढूँढने निकले……….

खुदको ढूँढने निकले तो किस्मत ने अपने जैसे औरो से मिलवा दिया…

कुछ बनने निकले थे तो  रूकावटो से नाता जुड़ गया…

मंजिल को पाने की चाहत में अपनों का साथ छुट गया…

तकदीर बनाने निकले थे मगर पता ही ना चला कब इस भीड़ ने खुद से ही अनजान बना दिया…

Deepali Jain

Jain Color
INSPIRATION

Bhaktamara Stotra

Bhaktamara Stotra Bhaktamara Stotra is a famous Jain Sanskrit prayer. It was composed by Acharya Manatunga (seventh century CE). The name Bhaktamara comes from a combination of two sanskrit names, “Bhakta” (Devotee) and “Amar” (Immortal). The prayer praises Rishabhanatha (adinath)…

Continue reading
Close