हुई ज़िन्दगी में कई गुस्ताखिया…
करी ज़िन्दगी में अपनी मन्मर्ज़िया…
कुछ गलत फैसलों से सीख मिल गई…
कुछ सही फैसलों से ज़िन्दगी संवर गई…

Deepali Jain